20.8.17

Ayurvedic Treatment for Waist Pain | कमर दर्द के लिए आयुर्वेदिक उपचार

ये नुस्खे अपनाएं और कमर दर्द को कहें अलविदा (Ayurvedic Treatment for Waist Pain)


हेलो दोस्तों! दोस्तों आज की पीढ़ी में कमर दर्द (Ayurvedic Treatment for Waist Pain) की शिकायत काफी आम हो गई है। 25-30 साल के युवा भी कमर दर्द की शिकायत करने लगे है। एक समय था जब 60 की उम्र के बाद ही जोड़ो और कमर दर्द की शिकायत होती थी। लेकिन हमारी बदलती जीवनशैली से हम पर काफी नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है। आजकल सबसे ज्यादा कमर दर्द की शिकायत उन लोगों को हो रही है जो सुबह से शाम तक कंप्यूटर पर काम करते है। कई घंटो तक एक ही मूद्रा में बैठने से कमर अकड़ जाती है, जिससे कई शारीरिक समस्या होने का खतरा बढ़ जाता है। कुछ लोगों कई तरह की अंग्रेजी दवाइयों पर ना जाने कितना पैसा व्यर्थ बहा देते है, लेकिन फिर भी आराम नहीं मिलता। कमर दर्द की सभी समस्याओं से निपटने के लिए आज हम आपको बताएंगे Waist Pain in Hindi को दूर करने के कुछ ऐसे नुस्खे, जिसकी मदद से आप आसानी किसी भी उम्र में कमर के दर्द से छुटकारा पा सकते है।


Ayurvedic Treatment for Waist Pain


ये लेप है दमदार (Try This Lap):

Ayurvedic Treatment for Waist Pain को दूर करने के लिए हम आपको कुछ लेप बनाना सिखाएंगे जो आप आसानी से घर पर बना सकते है-

  • पीसी हुई सौंठ में थोड़ा सा गर्म पानी मिलाकर एक पेस्ट जैसा बना लें। अब इस पेस्ट को कमर जिस हिस्से में दर्द है, वहां पर लगाए। कुछ ही समय में आपका Waist Pain in Hindi जड़ से गायब हो जाएगा।
  • दो चम्मच गर्म पानी में आधा चम्मच सौंठ और एक चम्मच शहद मिलाकर एक लेप बना लें। अब इस लेप से कमर की नियमित मालिश करें। ऐसा करने से आपका सालों पुराना Waist Pain in Hindi दूर हो जाएगा।
  • एक कटोरी तिल का तेल लेकर कढ़ाई में डाल लें। अब थोड़ा सा एक पोथी का लहसुन लेंले। अब सारे लहसुन को छील कर अच्छे से पीस लें। अब इस पीसे हुए लहसुन को तिल के तेल के साथ कढ़ाई में डाल दें। उन दोनों को गैस पर इतनी देर पकाएं कि तेल आधा रह जाएं। इसे छन्नी की मदद से छान लें। कमर या घुटनों में दर्द वाले हिस्से पर यह लेप लगाएं। लेप लगाने के बाद कुछ देर धूप में अवश्य बैठें। और हवा से बचने के लिए गर्म पट्टी बांधना बेहतर रहेगा। इसके नियमित प्रयोग से 60-70 की उम्र के लोगों का कमर दर्द दूर हो जाएगा।
  • थोड़े से नीम के पत्ते लेकर उसे पानी में पका लें। पानी को तब तक पकाना है, जब तक उसमें नीम के पत्तों का रंग ना आ जाएं। अब इस पानी से रोज़ाना कमर की मालिश करने से Ayurvedic Treatment for Waist Pain कुछ ही दिनों में दूर हो जाएगा।
  • सरसों का तेल किसी भी दर्द को दूर करने में काफी लाभदायक होता है। थोड़े से सरसो के तेल में एक कपूर की टिक्की डालकर एयरटाइट कंटेनर में बंद कर धूम में रख दें। धीरे-धीरे कपूर तेल में घूलने लगेगा। अब इस तेल से कमर की मालिश करें। रोज़ाना ऐसा करने से आपका Ayurvedic Treatment for Waist Pain दूर हो जाएगा।
एक्यूप्रैशर का सहारा लें (Try Acupressor)

 बिना किसी लेप या दवाई के भी आप कमर दर्द से निजात पा सकते है। एक्यूप्रैशर Ayurvedic Treatment for Waist Pain को दूर करने में काफी मददगार साबित होता है। हमारे हाथों के कुछ हिस्सों मे एक्यूप्रैशर पॉइंट्स होते है। अपने हाथ की अनामिका उंगली के बीच वाले पोरे के पीछे की तरफ के हिस्से को दबाएं। दोनों हाथों के पॉइंट्स को पांच-पांच मिनट दबाने से आपको काफी आराम मिलेगा।

योगासान है अचूक उपाय (Yoga is the perfect remedy)

योगासान भारत की एक ऐसी परंपरा है, जिसमें लगभग हर तरह की शारीरिक समस्याओं का समाधान है। नियमित योग करने वाले व्यक्ति को कभी किसी प्रकार का शारीरिक या मानसिक तनाव का सामना नहीं करना पड़ता। योगासन में Ayurvedic Treatment for Waist Pain को दूर करने के कई उपाय है। सूक्ष्मासन, अर्धउष्ट्रासन, भूजंगासन, धनुरासन, अर्धचन्द्रासन, मकरासन जैसे रोज़ाना करने से कमर दर्द से छुटकारा मिलता है।

इन नुस्खों से दर्द होगा छुमंतर (Try at once to reduce pain)
  • आधा चम्मच लहसुन का रस लेकर उसमें थोड़ा सा नींबू का रस मिला लीजिए। इसका तीखापन कम करने के लिए आधा कप पानी इसमें मिलाएं। इस घोल को रोज़ाना पीने से Ayurvedic Treatment for Waist Pain गायब हो जाएगा।
  • दस दाने भुने हुए चनें और बीस दानें किश्मिश रोज़ाना सुबह खाली पेट खाने से कमर दर्द में काफी आराम मिलेगा। इसे खाने का भी एक अलग तरीका है। 1 दाने चनें के साथ 2 दाने किश्मिश के चबा-चबाकर खाएं। एक ग्रास खत्म होने के बाद पुनः ऐसा ही करें। इस Ayurvedic Treatment for Waist Pain के नुस्खे को अपना आप मात्र 4-5 दिनों में फर्क महसूस करेंगे।
  • 100 ग्राम खसखस और मिश्री लेकर मिक्सी में पीस कर पाउडर बना लें। इस एक चम्मच पाउडर को रोजाना एक गिलास दूध में डालकर लेने से कमर दर्द कम हो जाएगा।
·     एक और घरेलु नुस्खा Ayurvedic Treatment for Waist Pain को दूर करने में काफी मदद करता है। थोड़ा सा एलावेरा लेकर उसका जेल निकाल लें। अब इस जेल मे बराबर आटा मिलाकर अच्छे से गूंथ ले। गूंथने के बाद इसे देसी घी और खांड के साथ कढ़ाई में भून लें। अब इसके छोटे-छोटे गोल लड्डू बनाकर रोजाना सेवन करें। सुबह उठकर खाली पेट इसका सेवन करें। पुराने से पुराना कमर दर्द इस औषधि से कुछ ही दिनों में छुमंतर हो जाएगा।

खान-पान पर दे ध्यान (Food and drink)

  • नियमित फल और हरी पत्तेदार सब्जियां खाएं।
  • रोज़ाना सुबह दो खजूर खाएं।
  • देसी घी में थोड़ा सा अदरक का रस मिलाकर सेवन करें।
  • एक गिलास दूध में एक चम्मच आरंडी का तेल मिलाकर नियमित सेवन करें।
  • दही, खटाई जैसी खट्टे पदर्थों का सेवन बंद कर दें।
  • घी-तेल में तली हुई और भुनी हुई वस्तुएं ना खाएं।
  • ज्यादा मसालेदार खाना और बाहर का जंक फूड बिल्कुल ना खाएं।
  • अदरक वाली चाय भी कमर दर्द से छुटकारा पाने में मदद करती है।
तो दोस्तों अब आप जान गए है कि कमर दर्द को दूर करना कितना सरल और आसान है। उपरोक्त Ayurvedic Treatment for Waist Pain को दूर करने के तरीके में से आप अपनी सुविधा के अनुसार कोई भी नुस्खा अपना सकते है। यह नुस्खे केवल अपने तक ही सीमित ना रखें। अपने घर में दादा-दादी, नाना-नानी, अपने सभी रिश्तेदारों और जरुरतमंदो को अवश्य बताएं। 

0 comments:

Post a Comment